ये हमारा Archive है। यहाँ आपको केवल पुरानी खबरें मिलेंगी। नए खबरों को पढ़ने के लिए www.biharnewslive.com पर जाएँ।

अररिया की आरती बनी दुल्हन,प्रेमी छोटू के परिवार ने इसलिए उठाया ये कदम,मनु बोला- मैं हूं ना

798

 

अररिया से अंकित सिंह की रिपोर्ट।

अरर‍िया के आरती के प्रेमी छोटू की हत्या के बाद मामला खुब वायरल हुआ। आरती के स्‍वजनों पर छोटू की हत्‍या का आरोप है। छोटू के छोटे भाई मनु के साथ आरती की शादी हुई। आरती अपने प्रेमी के हत्यारे को सजा दिलाने की मांग कर रही थी।

 

रानीगंज। (अररिया) आरती के प्रेमी छोटू की हत्या के बाद अब आरती की शादी उसके छोटे भाई मनु के साथ शुक्रवार की रात कर दी गई। विदित हो कि यह मामला इंटरनेट मीडिया पर खूब वायरल हुआ था। जिसमें छोटू की प्रेमिका आरती अपने प्रेमी के हत्यारे को सजा दिलाने की मांग कर रही थी। छोटू के शव के साथ ही आरती उसके घर पर चल गई। वहां वह छोटू की विधवा के रूप में ही रहने लगी।

जानकारी अनुसार रानीगंज थाना क्षेत्र के बढ़ोआ गांव में बीते छह जुलाई को प्रेम प्रसंग में भरगामा थाना क्षेत्र के रहरिया गांव निवासी उमेश यादव के पुत्र छोटू यादव को प्रेमिका आरती कुमारी के पिता,भाई,भाभी,जीजा सहित अन्य लोगों ने पीट पीट कर तथा बिजली करंट लगाकर हत्या कर दी थी। जिस कारण प्रेमिका आरती कुमारी ने अपने पिता,भाई,भाभी, जीजा सहित अन्य लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराते हुए अपने मृत प्रेमी छोटू के घर में ही रहने लगी।

 

बताते चलें कि हत्या के बाद से प्रेमिका आरती का सेहत काफी खराब हो गया था। जिसका इलाज प्रेमी के पिता ने कराया। काफी सदमे में रहने के बावजूद भी प्रेमी के माता पिता ने काफी देखभाल करते हुए अपने घर में पनाह दिया और हर संभव मदद की। प्रेमिका आरती ने भी प्रेमी के घर में ही आजीवन बिताने की बात कही थी। प्रेमी के माता पिता ने भी घटना के बाद से आरती का साथ दिया और आखिरकार अपने घर की बहु बना कर एक हिम्मत दिखाया है।

आरती के पिता व भाई को घटना के दिन ही रानीगंज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। बाद में एक एक कर दोनों जीजा सहित अधिकांश आरोपित भी जेल की हवा खा रहे हैं। अब सिर्फ आरती का एक ही मकसद है कि सभी हत्या आरोपितों को न्यायालय से कड़ी से कड़ी सजा दिलवाना जिससे उनके मृत प्रेमी के आत्मा को शांति मिले। वहीं प्रेमी छोटू के पिता उमेश यादव ने बताया कि मेरे एक पुत्र की हत्या कर दी गई जिसका प्रेमिका आरती मेरे घर में ही घटना के दिन से रह रही है। जिंदगी बहुत बड़ी है इसीलिए हमने अपने छोटे पुत्र मनु से उसकी शादी करा दिया है। अब अपने जीवन साथी के साथ खुशी खुशी अपने जीवन व्यतीत करेंगी।

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More