ये हमारा Archive है। यहाँ आपको केवल पुरानी खबरें मिलेंगी। नए खबरों को पढ़ने के लिए www.biharnewslive.com पर जाएँ।

राम ने किया रावण का बध,खोईछा भरके की गयी मां भगवती की विदायी,

121

माता की जयघोष के साथ भक्तों ने नाच-गा और लाठी-डंडे भांजकर की प्रतिमाओं को विसर्जित, मांगी कृपा दृष्टि बनाये रखने का वरदान,आपसी सौहार्द के साथ दुर्गा पूजा सम्पन्न

किशोर चौहान,बिहटा,(पटना)।पुलिस -प्रशासन की चाक-चौबंद व्यवस्था के बीच बुराई पर अच्छाई और अधर्म पर धर्म की जीत का प्रतीक दुर्गा पूजा समारोह विजय दशमी पर धूमधाम से शुक्रवार को सम्पन्न हो गया।कहीं राम ने रावण का बध कर सत्य और धर्म के मार्ग पर चलने का संदेश दिया तो कहीं यह समारोह साम्प्रदायिक सौहार्द का मिशाल बना।पूजा स्थलों के साथ-साथ घर-घर मे भक्तिन मां जगदंबे की खोईछा भरके विदायी की।महिलाओं ने आंचल पसार कृपा दृष्टि बनाये रखने की दुआ मांगीं।हज़ारों की संख्या में श्रद्धालु नाचते- गाते और लाठी डंडा भांजते सोन नद में मां की प्रतिमाओं को विसर्जित।मांगी कॄपा दृष्टि बनाये रखन का वरदान।इस अवसर पर बिहटा के परेव और पैनाल गांव आदि में रावण वध समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें बानरी सेना के साथ श्रीराम ने गाजे -बाजे के साथ आकर रावण का बध किया।उन्होंने रावण का पुतला दहन कर बुराई पर अच्छाई और अधर्म पर धर्म का विजय का संदेश देकर सत्य और धर्म के मार्ग पर चलने के लिये प्रेरित किया।पैनाल,परेव आदि जगहों पर रावण देखने के लिये हजारों की संख्या में श्रद्धलुओं की भीड़ उमड़ी रही।पैनाल हाई स्कूल के मैदान में नवयुवक संघ द्वारा आयोजितरावण बध कार्यक्रम 2001 से चल रहा है।जिसके आयोजक काशी नाथ प्रसाद है।संचालक निर्मल कुमार बिट्टू का कहना है कि पुलिस-प्रशासन और स्थानीय लोग के सहयोग से कार्यक्रम वेहतर ढंग से सम्पन्न हो गया है।इसमें छोटे,विपुल,नीरज,अंकित (बड़े),अभिषेक ,गौतम,सूरज,अमन,अभिराज्य ,रूपक आदि की भूमिका काफी सराहनीय रही।सोन की दोनों बिहटा,पटना और कोइलवर,भोजपुर का पुलिस -प्रशासन के गिताखोर और बचावकर्मियों के साथ मुस्तैद रहे।बिहटा के बीडीओ बिभेष आनंद,सीओ सुनील कुमार वर्मा,थानाध्यक्ष रंजीत कुमार सिंह ,मनेर के थानाध्यक्ष राजीव रंजन सिंह,कोइलवर के थानाध्यक्ष सहित बीडीओ- सीओ दल-बल के साथ एम्बुलेंश और आपदा के बचावकर्मी के साथ विसर्जन स्थल पर लगे रहे।मनेर में 70 वर्षो से चली आ रही परंपरा इस बार फिर देखने को मिली।जहां पुलिस -प्रशासन के साथ स्थानीय नेता,पूजा समिति के सदस्य, आम आम आवाम ने अखाड़ा जुलूस,पगड़ी सम्मान और विसर्जन में एक साथ लाठी -डंडा भांजते और नाचते गाते इस महापर्व को हर्षोल्लास के साथ समपर्ण कर हिन्दू-मुस्लिम की चट्टानी एकता की मिशाल पेश की।जिसमें मनेर में बड़ी देवी और मझली देवी जी पूजा समिति की भूमिका काफी सराहनीय रही। महावीर दल अखाड़ा एवं मंझली दुर्गा पूजा समिति की ओर से पगड़ी सम्मान का आयोजन किया गया।जिसमें पूजा समिति के आयोजकों के अलावा शहर के गणमान्य लोगों को पगड़ी देकर सम्मानित किया गया।सम्मान पाने वालों में नगर पंचायत के उपाध्यक्ष फरीद हुसैन खान उर्फ गुड्डू खान,पूर्व अध्यक्ष विद्याधर विनोद, वार्ड पार्षद अमोल बजाज, उदय शंकर साह, प्रदीप साव,विनय कृष्ण,मनोज चौरसिया, मनोज गुप्ता,इमतियाज खान,उपेन्द्र यादव,थाना प्रभारी राजीव रंजन सिंह, दरोगा शक्ति सिंह, दरोगा ब्रिज भूषण मिश्र समेत दर्जनों लोग शामिल हुए।इसके अलावा बड़ी दुर्गा पूजा समिति की ओर से भी पगड़ी रस्म का आयोजन किया गया।यहां पर पूर्व विधायक प्रो0 श्रीकांत निराला, अशोक गोप आदि लोगों को सम्मानित किया गया।महावीर दल अखाड़ा की ओर से मूर्ति विसर्जन जुलूस के साथ अखाड़ा निकाला गया।जिसमें खिलाड़ियों ने पारंपरिक तरीके से लाठी डंडे, गतका, तलवारबाजी, आग का गोला फेंक, रस्सी फेंक समेत कई खेलों का प्रदर्शन किया। बिहटा के श्री -श्री छोटी देवी पूजा समिति के ओर से) भण्डारा का आयोजन किया गया। जिसमे बिहटा थाना के थानाध्यक्ष रंजीत कुमार सिंह , एसआई अविनाश कुमार के साथ में पूजा समिति के सदस्य अजय कुमार उर्फ़ पिंटू, चंदन कुमार,लुटू आदी लोग मौजूद थे।यहां प्रति वर्ष भंडारा का आयोजन होता है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More