ये हमारा Archive है। यहाँ आपको केवल पुरानी खबरें मिलेंगी। नए खबरों को पढ़ने के लिए www.biharnewslive.com पर जाएँ।

गोपालगंज: जदयू नेता हत्याकांड मामले में एक आरोपी ने किया कोर्ट में सरेंडर, जानें और क्या हुआ

101

नीरज कुमार सिंह/मंजेश कुमार
बिहार न्यूज लाइव@हथुआ

बीते दिनों बेखौफ अपराधियों ने जदयू के जिला महासचिव व मुखिया पति उपेन्द्र सिंह कुशवाहा की हत्या कर दी। वहीं इस हत्याकांड के पांचवे दिन एक नामजद आरोपी ने बुधवार को गोपालगंज कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया। सरेंडर करने वाले आरोपी का नाम अरुण कुमार सिंह है। वह भी मीरगंज के माधो मटिहानी गांव का रहने वाला है। कोर्ट में सरेंडर करने आये आरोपी ने मीडिया के सामने खुद को बेकसूर बताया है। इधर मीरगंज पुलिस ने फरार चल रहे तीन आरोपियों के घर कुर्की जब्ती की कारवाई शुरू कर दी। भारी संख्या में पुलिस बल मीरगंज के नैन मटिहानी गांव में पहुची।

यहां हत्याकांड में शामिल तीन आरोपियों रामप्रवेश सिंह, करण सिंह और विशाल कुमार के घर की कुर्की की गई। दरअसल बीते 14 सितम्बर 2018 को मीरगंज के माधो मटिहानी गांव के मुखिया पति उपेन्द्र सिंह कुशवाहा की दिनदहाड़े हथुआ के बरवा कपरपुरा गांव में गोलियों से भुनकर हत्या कर दिया गया। हत्या के बाद बाइक सवार अपराधी हवा में हथियार लहराते फरार हो गए। इस घटना के बाद मुखिया नीलम देवी ने पंचायत के ही अरुण कुमार सिंह, विशाल कुमार, रामप्रवेश सिंह और करण सिंह के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराया।

एफआईआर दर्ज होने के बाद से ही सभी आरोपी घर छोड़कर फरार हो गए थे। हत्याकांड के पीछे राजनितिक साजिश बताया जा रहा है। वहीं पुलिस की दबाव के बाद एक आरोपी अरुण कुमार सिंह ने खुद को सीजीएम कोर्ट में सरेंडर कर दिया। आरोपी अरुण सिंह बताया कि उसे साजिश के तहत स्थानीय विधायक के दबाव में नामजद किया गया है। कोर्ट से जो भी फैसला होगा उसे स्वीकार है। जबकि दूसरी तरफ मीरगंज और हथुआ पुलिस ने फरार चल रहे तीन अरोपियों के घर की कुर्की शुरू कर दी। इस दौरान दिनभर नैन मटिहानी गांव में लोगो का जमावड़ा लगा रहा।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More